कोरोना संक्रमण कम हुआ होने के बाद ही 26 सिंतबर के आस-पास बुलाया जा सकेगा विधानसभा का मानसून सत्र – स्पीकर डॉ. चरणदास महंत

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र अगस्त के तीसरे सप्ताह में संभावित है, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण यदि ऐसा नहीं हो पाया तो 26 सिंतबर के पहले सत्र कभी भी बुलाया जा सकता है। विधानसभा स्पीकर डॉ.चरणदास महंत ने बताया कि 26 मार्च को बजट सत्र का समापन हुआ था। पिछले सत्र के छह माह के भीतर अगला सत्र बुलाना जरूरी है, इसलिए इसे देखते हुए सत्र को लेकर चर्चा की जा रही है।

जिस तरह से प्रदेश में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है, उसे देखते हुए सत्र बुलाने की तिथि अभी तय नहीं की गई है। महंत ने कहा कि यदि कोरोना का प्रभाव आने वाले 10-15 दिनों में कम हुआ तो अगस्त के तीसरे सप्ताह में बुलाया जा सकता है। हालांकि उन्होंने यह भी बताया कि बजट सत्र को खत्म हुए छह महीने का समय 26 सितंबर को पूरा होगा। इसलिए नियमत: यदि काेरोना संकट अगस्त में कम नहीं हुआ तो फिर 26 के पहले सत्र बुलाना होगा।