छत्तीसगढ़ में ई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित की गयी ई-लोक अदालत

बिलासपुर :- आज यानि 11 जुलाई का दिन छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट के लिए खास है, आज देश के पहले ई नेशनल लोक अदालत में तीन हजार 133 मामलों की सुनवाई होगी, इसके लिए विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष व जस्टिस प्रशांत मिश्रा के नेतृत्व में 195 खंडपीठों का गठन किया गया है, ई नेशनल लोक अदालत की खास बात ये कि छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में दो खंडपीठ के अलावा देश के सभी जिला एवं सत्र न्यायालयों में गठित खंडपीठों के जरिए सुनवाई होगी, अब से कुछ देर बाद सुबह 10.30 बजे ई नेशनल लोक अदालत का चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन शुभारंभ करेंगे, आधे घंटे के इस कार्यक्रम का लाइव लिंक के जरिए देशभर में लाइव प्रसारण किया जाएगा।

शनिवार को जिन मामलों की सुनवाई होगी उनके पक्षकारों से शुक्रवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने सहमति भी ले ली है, जिला एवं सत्र न्यायाधीशों के जरिए सहमति फार्म भराया गया है, छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट ने गरीबों को त्वरित न्याय दिलाने के लिए नेशनल लोक अदालत के स्वरूप में बदलाव कर दिया है, कोरोना संक्रमण के चलते नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों की सुनवाई वर्चुअल कोर्ट के जरिए होगी, पक्षकार व अपीलार्थी अपने वकील के जरिए वीसी से जुड़े रहेंगे, सुनवाई के दौरान जज लैपटॉप या कंप्यूटर के स्क्रीन पर नजर आएंगे, पक्षकारों के साथ वकील संबंधित कोर्ट के समक्ष अपनी बात रखेंगे, दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट समझौता के लिए समय निर्धारित करेगा, वर्चुअल सुनवाई के दौरान कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा।