राजनांदगांव में नर्सिंग की ट्रेनिंग करने के लिए आई थी युवती, 8 माह बाद मिला कंकाल, प्रेम प्रसंग का है ये मामला

छत्तीसगढ़ : के राजनांदगांव में नर्सिंग की ट्रेनिंग कर रही एक युवती की हत्या कर दी गई। पुलिस ने 8 माह बाद डोंगरगढ़ की प्रज्ञापुरी पहाड़ियों से युवती का कंकाल बरामद किया है।  जिसके बाद पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए एक युवक को गिरफ्तार किया है। । बताया जा रहा है कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग था। इस मामले में युवती के परिजनों ने बसंतपुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। जिला पुलिस इन दिनों गुमशुदा लोगों की तलाश के लिए अभियान चला रही है।

कवर्धा के रणबीरपुर लोहारा निवासी सुमन पटेल (20) राजनांदगांव में नर्सिंग की ट्रेनिंग करने के लिए आई थी। इसके बाद अचानक अक्टूबर 2019 में लापता हो गई। इसके बाद से युवती का कुछ पता नहीं था। इसी बीच पुलिस ने गुमशुदा लोगों की तलाश के लिए अभियान शुरू किया, तो डोंगरगढ़ की प्रज्ञापुरी पहाड़ियों में एक कंकाल मिला। इसकी शिनाख्त सुमन पटेल के रूप में की गई।

सुमन को डोंगरगढ़ घुमाने ले गया था मनोज, वहीं दोनों में विवाद हुआ

पुलिस जांच में पता चला कि सुमन का कवर्धा के ही रणबीरपुर लोहारा में रहने वाले मनोज वार्ष्णेय से प्रेम प्रसंग था। मनोज 6 अक्टूबर को सुमन को घुमाने के लिए डोंगरगढ़ ले गया था। वहां अगले दिन 7 अक्टूबर को किसी बात पर दोनों के बीच विवाद हो गया। झगड़ा इतना बढ़ा कि मनोज ने सुमन की हत्या कर दी और शव को वहीं पहाड़ियों के बीच छिपा दिया। कॉल डिटेल के जरिए पुलिस आरोपी तक पहुंची और उसे गिरफ्तार कर लिया।