कोण्डागांव : कोविड केयर सेंटर में मरीजों के भोजन व्यवस्था की जिला प्रशासन की टीम प्रतिदिन कर रही जांच

जिला अस्पताल एवं कोविड केयर सेंटर भर्ती मरीजों एवं उनके देखभाल में लगे मेडिकल स्टाॅफ को साफ-स्वच्छ एवं गुणवत्तापूर्ण  भोजन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा के आदेशानुसार सीएमएचओ डाॅ टीआर कुंवर के मार्गदर्शन में खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा लगातार कोविड केयर कैंटीन में बनने वाले खाद्य सामग्रियों के रख रखाव, वैधता, गुणवत्ता की जांच एवं निगरानी की जा रही है। ज्ञात हो की खाद्य सुरक्षा अधिकारी डोेमेन्द्र धुु्रव के नेतृत्व में टीम द्वारा मरीजों को प्रतिदिन दिये जाने वाले नास्ता एवं दिन-रात के भोजन का औचक निरीक्षण कर स्वयं चखकर एवं भौतिक रूप से परीक्षण किया जा रहा है। परिणाम स्वरूप कैंटीन में निर्मित खाद्य सामग्रियों की गुणवत्ता में सुधार पाया गया है। परोसे जा रहे भोजन पर अस्पताल में भर्ती मरीजों व अधिकारियों-कर्मचारियों ने संतोष जताया है। पूर्व में मिली शिकायतों को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर के निर्देश पर टीम गठित कर कैंटीन संचालक को कड़ी फटकार लगाई गयी थी साथ ही कैंटीन में स्वच्छता एवं शुद्धता पर विशेष ध्यान देने हेतु निर्देशित किया था। जिसके बाद कैंटीन परिसर में खाद्य सामग्रियों के रख-रखाव, स्वच्छता, भण्डारण, पैकिंग आदि में विशेष सावधानी बरती जा रही है। मरीजों की विशेष देख-भाल हेतु प्रतिबद्ध शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा अच्छे भोजन की उपलब्धता को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही है। शीघ्र ही कैंटीन में निर्मित भोजन का नमूना लेकर मोबाईल फूड टेस्टींग लैब या राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला से भी जांच कराये जाने की तैयारी है। टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी के अतिरिक्त औषधि निरीक्षक सुखचैन सिंह ध्रुर्वे, सहित शकील मोहम्मद, एवं रामसिंह कंवर शामिल है।
इस संबंध में खाद्य सुरक्षा अधिकारी डोमेन धु्रव ने बताया कि कलेक्टर द्वारा शिकायतों के चलते खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम को प्रतिदिन कोविड केयर सेंटर में खाने की गुणवत्ता की जांच के लिए निर्देशित किया गया है। टीम विगत 02 अक्टूबर से लगातार सुबह-शाम कैंटीन के खाने को स्वयं खाकर उसकी गुणवत्ता की जांच कर रही है साथ ही आस-पास में गंदगी ना हो इसके लिए कैंटीन संचालक को निर्देश भी दिये जा रहे हैं।