रायपुर : गोधन न्याय योजना : गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट निर्माण प्रक्रिया शुरू: जल्द विक्रय के लिए हो जाएगा तैयार

राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालकों और किसानों से खरीदी गई गोबर से अब प्रदेश के गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट बनाने का सिलसिला शुरू हो गया है। सरगुजा जिले के गौठानों में भी गोबर से वर्मी कम्पोस्ट बनाने की तैयारी जोरो से चल रही है। यहां गठित गौठान समिति के सदस्यों  एवं स्व-समूह की महिलाएं वर्मी टांका में गोबर डालकर वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने में जुटी गई है।

अधिकारियों ने बताया कि जिले के जनपद पंचायत अम्बिकापुर के ग्राम पंचायत केशवपुर के गौठान में समूह की महिलाएं वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाना शुरू कर दी गई हैं। केंचुआ से खाद बनाने के लिए समूह की इन महिलाओं ने कृषि विज्ञान केंद्र के माध्यम से तकनीकी प्रशिक्षण प्राप्त किया है। जिले के 86 गौठानों में बीते 20 जुलाई से गोधन न्याय योजना के तहत गौठान समिति द्वारा पशुपालकों से गोबर की खरीदी जा रही है। केशवपुर गौठान में 86.13 किं्वटल गोबर की खरीदी की गई है। वर्मी कम्पोस्ट बनाने के लिए गोबर तथा घुरवा अपशिष्ट को आयताकार बने पिट में डालकर रिफिलिंग किया जाता है। उसमे उचित मात्रा में केंचुआ डाला जाता है। गौठान में वर्मी कम्पोस्ट लगभग 75 प्रतिशत तैयार हो गया है। आगामी 10 दिनों में पूर्ण रूप से वर्मी कम्पोस्ट बनकर विक्रय के लिए उपलब्ध हो जाएगा। इससे समूह की महिलाओं को अतिरिक्त आमदनी होगी।

Leave a Reply